भारत की बेटी रागिनी बनी UNMISS की मूल्याँकन टीम लीडर - BiharDailyNow
   Breaking News

भारत की बेटी रागिनी बनी UNMISS की मूल्याँकन टीम लीडर

आज महिलाएं हर क्षेत्र में अपना योगदान दे रही हैं, हर चुनौती को स्वी​कार कर रही है। घर के साथ -साथ वो अपने सपनों को एक नए मुकाम तक पहुंचा रही हैं। महिलाएं अपनी पहचान के लिए अब किसी पर निर्भर नहीं है। संयुक्त राष्ट्र के विभिन्न अभियानोें से लेकर विशेष राजनीतिक मिशनों में महिलाओं की भागीदारी साफ तौर पर देखी जा सकती है। आपकोे बता दे रागनी यूएन के ऐसे ही एक शांति अभियान की सदस्‍य जो  भारतीय पुलिस सेवा की अधिकारी  भी हैं।  यूएन द्वारा उनका एक छोटा सा ​विडियों रिलीज किया गया है जिसमें वो कह रही है कि शांति ही मेरा मीशन है।

कहां तैनात हैे रागनी 

UNMISS की मूल्याँकन टीम लीडर, रागिनी कुमारी सूड़ान में तैनात है। ये देश काफी समय से हिंसा की चपेट में है। इसका सबसे ज्‍यादा खामियाजा यहां की महिलाओं और बच्‍चों को उठाना पड़ रहा है। रागनी कुमारी का कहना ​है कि उन्हे इस काम के लिए चुना गया यह उनके लिए सौभाग्य की बात है। वो कहती है कि ऐेसी कई बातें हे जो महिलाएं पुरुष अधिकारियों को नहीं बताती है  तो ऐसे में  उनकी मौजूदगी से कैंप में रह रही महिलाओं को राहत मिलती है।

कब बनी थी रागनी इस अभियान का हिस्सा

रागिनी 6 अप्रैल 2019 को संयुक्‍त राष्‍ट्र के शांति अभियान का हिस्‍सा बनी थीं। वो चार्चा में तब आई जब संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्‍ताव 1325 की 20वीं वर्षगांठ के मौके पर यूएन ने  अपनी एक वीडियो श्रृंख्‍ला शुरू की है। शांति अभियानों मे हिस्सा ले रही महिलाओं से परिचित करवाया। ऐसे में पहली कड़ी में दक्षिण सूडान में तैनात, UNMISS की मूल्यांकन टीम लीडर, रागिनी कुमारी को चुना है। यूएन के इस अभियान को ‘शान्ति ही मेरा मिशन है’ का नाम दिया गया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply