नवरात्र स्पेशल: व्रत के ​दौरान ऐसे रहें एनर्जेटिक - BiharDailyNow
   Breaking News

नवरात्र स्पेशल: व्रत के ​दौरान ऐसे रहें एनर्जेटिक

हिंदू धर्म में नवरात्र व्रत रखने का एक अपना अलग ही महत्व है। जिसमें भक्त देवी दुर्गा के नौ रूपों की नौ दिन पूजा करते हैं और उपवास रखते हैं। ऐसे में इन नौ दिनों के दौरान आप क्या इस्तेमाल करके खुद को कैसे लंबे समय तक ऊर्जावान बनाए रखे, आज हम बताएंगे आपको इस आर्टिकल में।

मखाना के फायदे

व्रत में मखाना खाने से आपके शरीर को संपूर्ण पोषण की प्राप्ति होती है। व्रत में आप रेग्युलर भोजन नहीं करते हैं। ऐसे में आपका ब्लड प्रेशर कम हो सकता है। या भूख के कारण आपको काम पर फोकस करने में दिक्कत आ सकती है। लेकिन मखाना खाने से आपके शरीर में रक्त का फ्लो भी ठीक बना रहेगा और आपको भूख भी नहीं सताएगी। क्योंकि मखाना में फाइबर्स की मात्रा बहुत अधिक होती है और फाइबर पेट को लंबे समय तक भरा-भरा रखता है। साथ ही यह आपको लगातार ऊर्जा देने का काम भी करता है।

आयरन का भरपूर स्त्रोत

आपको बता दें कि मखाना आयरन की प्राप्ति का एक प्रमुख स्त्रोत है।

डिहाइड्रेशन से बचाने में लाभकारी

मखाना एक वॉटर फूड होता है, मखाना आपके शरीर में पानी की मात्रा भले ही ना बढ़ाता हो लेकिन यह आपके शरीर में पानी को होल्ड करके रखने का कार्य करता है। ताकि आपके शरीर में आवश्यकता के अनुसार नमी बनी रहे और आपको डिहाइड्रेशन की समस्या का सामना ना करना पड़े।

किसमिस के फायदे

किशमिश कई औषधीय गुणों से समृद्ध एक स्वादिष्ट खाद्य पदार्थ है, जिसे आप अपने व्रत के दौरान या अपने दैनिक आहार का हिस्सा बना सकते हैं।

आयरन की कमी नहीं होने देगा किसमिस

किसमिस को आयरन का एक समृद्ध स्रोत माना जाता है और इसलिए एनीमिया के लिए आहार में एक नाम किशमिश का भी शामिल है। इस समस्या में शरीर में पर्याप्त मात्रा में लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण नही होता, जो शरीर में ऑक्सीजन का सप्लाई करती हैं।

ऊर्जा का स्रोत

किशमिश को कार्बोहाइड्रेट का एक प्राकृतिक स्रोत माना जाता है। यह ब्लड में ग्लूकोज का स्तर बनाए रखता है, जिससे शरीर में ऊर्जा का प्रवाह बरकरार रह सकता है। वजन नियंत्रण करने में भी सीमित मात्रा में किसमिस खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। किसमिस में डाइट्री फाइबर और प्रीबायोटिक पाए जाते हैं।

उच्च रक्तचाप में किसमिस के फायदे

किशमिश को सेहत के लिए फायदेमंद ड्राईफ्रूट्स में उच्च स्थान दिया गया है। किशमिश की इस कार्यप्रणाली के पीछे इसमें मौजूद खनिज काम करते हैं। इसमें मौजूद पोटेशियम बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है।

सिंघाड़ा के फायदे

व्रत ​के लिए सिंघाड़ा इतना फायदेमंद है, कि आपने कल्पना भी नहीं की होगी।
सिंघाड़े में विटामिन-ए, सी, मैंगनीज, थायमाइन, कर्बोहाईड्रेट, टैनिन, सिट्रिक एसिड, रीबोफ्लेविन, एमिलोज, फास्फोराइलेज, बीटा-एमिलेज, प्रोटीन, फैट और निकोटेनिक एसिड जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो काफी फायदेमंद होते हैं।

व्रत में बहुत ही फायदेमंद सिंघाड़ा

सिंघाड़ा शरीर के लिए मैंगनीज का अवशोषक करने में सक्षम होता है जिससे शरीर को मैंगनीज का भरपूर लाभ मिलता है। सिंघाड़ा शरीर को उर्जा देता है, इसलिए उसे व्रत और उपवास के खाने में भी अलग-अलग तरह से शामिल किया जाता है। इसमें कैल्शियम भी भरपूर पाया जाता है, इसलिए इसका सेवन करने से शारीरिक कमजोरी दूर करत है।

नारियल पानी के फायदे

इन नौ दिनों में अगर रोज नारियल पानी पिया जाए तो न केवल बॉडी के टॉक्सिन्स निकल जाएंगे बल्कि वेट लॉस में भी मदद मिलेगी, इसके अलावा स्किन और बालों को भी फायदा होगा। इसमें विटामिन, पोटैशियम, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन और खनिज तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। इस पानी में पोटेशियम, मैग्नीज, सोडियम, कैल्शियम के अलावा प्रोटीन और फाइबर भी होता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply