नीतीश ने नहीं दिया, लेकिन तेजस्वी करेंगे यह मांगे पूरी - BiharDailyNow
   Breaking News

नीतीश ने नहीं दिया, लेकिन तेजस्वी करेंगे यह मांगे पूरी

महागठबंधन ने जारी किया घोषणा पत्र
मनरेगा में 200 दिन रोजगार, नहीं लेंगें परीक्षा फार्म के लिए शुल्क
पटना। तेजस्वी यादव के नेतृत्ववाली महागठबंधन ने अपनी चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दी है। इस घोषणा पत्र नें तेजस्वी ने पहली कैबिनेट में दस लाख नौकरी के साथ शिक्षकों को समान काम के लिए समान वेतन देने की बात कही है। तेजस्वी ने घोषणा पत्र में प्रतियोगी परीक्षाओं में लगनेवाले शुल्क को खत्म करने की घोषणा की है। इसकी जगह परीक्षा केंद्रों तक जाने का किराया सरकार देगी। इसके साथ ही उन्होंने बिहार में मनरेगा में सौ दिन की जगह दो सौ दिन रोजगार देने की घोषणा की है।

घोषणा पत्र जारी करते हुए तेजस्वी ने कहा है कि आज नवरात्रि का शुभ दिन है। बिहार के विकास के लिए संकल्प लेने का इससे बेहतर समय नहीं हो सकता है। तेजस्वी ने कहा नीतीश कुमार ने अपने शासन में युवाओं को नौकरी नहीं दी, लेकिन उनकी सरकार बनते ही पहली कैबिनेट में ही दस लाख नौकरी देने के वादे को पूरा किया जाएगा।

नीतीश पर साधा निशाना
युवाओं को ध्यान में रखकर तैयार महागठबंधन के घोषणा पत्र जारी करने के दौरान तेजस्वी ने कहा कि नीतीश ने 15 साल शासन किया, लेकिन वह बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिला सके। हमारी सरकार इस वादे को पूरा करेगी। इसके साथ ही पहले विधानसभा सत्र में केंद्र के कृषि संबंधी तीनों बिल के प्रभाव से बिहार के किसानों को मुक्ति दिलाई जाएगी।

खोलेंगे कर्पूरी सहायता केंद्र
महागठबंधन की घोषणा पत्र में राज्य के अलग-अलग हिस्सो में कर्पूरी श्रम सहायता केंद्र शुरू करने की बात कही गई है। बताया गया कि इससे लोगों की मदद करने में आसानी होगी। साथ ही बिहार से पलायन रोकने की बात भी घोषणा-पत्र में कही गई है।

महागठबंधन के घोषणा पत्र जारी करने के दौरान कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला भी मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि ये चुनाव नई दशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है, ये चुनाव नया रास्ता और नया आसमान बनाम हिन्दू-मुसलमान का चुनाव है।

Spread the love
  • 9
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply