पेट की आग बुझाने के लिए मिला नोबेल शांति पुरस्कार - BiharDailyNow
   Breaking News

पेट की आग बुझाने के लिए मिला नोबेल शांति पुरस्कार

साल 2020 के लिए नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा कर दी गई है, ये पुुरस्कार इस बार भूख के खिलाफ जंग लड़ने के लिए World Food Programme संगठन को मिली है।  इस संगठन का कोरोना वायरस संकट, सैन्य संकट और अन्य मुश्किल वक्त के बीच दुनिया में बड़े पैमाने पर जरूरतमंदों को खाना खिलाने और मदद करने के लिए चयन किया गया है।

क्या है World Food Programme

नोबेल कमेटी की जानकारी के मुताबिक, वर्ल्ड फूड प्रोग्राम दुनिया का सबसे बड़ा संस्था है जो संकट की घड़ी में खाना जरूरतमंदो को मुहैया कराता है।
साल 2019 में World Food Programme संगठन ने 88 देशों के 100 मिलियन लोगों को खाना मुहैया कराया। अगर बात करें इस संगठन कीी तो विश्‍व भर में आपात स्थितियों में इसका काम ये सुनियचित करना है कि जरूरतमंदों तक खाद्य सामग्री पहुंचे, विशेषकर गृह युद्ध और प्राकृतिक आपदाओं में। भारत में विश्‍व खाद्य कार्यक्रम अब सीधे खाद्य सहायता प्रदान करने के बजाय भारत सरकार को तकनीकी सहायता और क्षमता निर्माण सेवाएं प्रदान करता है। विश्‍व खाद्य कार्यक्रम अब इस बात पर ध्‍यान दे रहा है कि देश के भोजन आधारित सामाजिक सुरक्षा कवच को इतना सक्षम कर दिया जाए कि वह लक्षित जनसंख्‍या तक भोजन को अधिक कुशलता और असरदार ढंग से पहुंचा सके

नोबेल शांति पुरस्कार 2020 के दौड़ में इनका नाम भी शामिल था

इस पुरस्कार की दौड़ में डोनाल्ड ट्रंप, ग्रेटा थनबर्ग समेत 318 उम्मीदवार शामिल थे, जिनमें से 211 व्यक्ति और 107 संगठन थे।

आपको बता दें कि नोबेल पुरस्कार अल्फ्रेड नोबेल की याद में 1901 से प्रदान किए जा रहे हैं। इससे पहले इस वर्ष केि लिए चिकित्सा, भौतिकी, रसायन और साहित्य के नोबेल के पुरस्कारों की पहले ही घोषणा की जा चुकी है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 0
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply